21.6 C
Himachal Pradesh
Tuesday, July 5, 2022

उप चुनाव में हार के बाद सरकार व संगठन में फेरबदल संभावित

सत्तारूढ़ भाजपा को मिशन रिपीट के लिए फेरबदल माना जा रहा जरूरी 

22 नवंबर से पहले प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में हार के कारणों का मंथन करेगी भाजपा: धूमल 

शिमला | टी एन आर

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में हिमाचल में उपचुनाव में मिली हार पर मंथन किया गया। इस दौरान उप चुनाव से संबंधित मंत्रियों और भाजपा विधायकों का रिपोर्ट कार्ड बैठक में रखा गया। पार्टी आलाकमान ने हिमाचल भाजपा के पदाधिकारियों को हार के कारणों पर मंथन करने और विस्तृत रिपोर्ट दिल्ली भेजने को कहा है।
सूत्रों की मानें तो आलाकमान को रिपोर्ट मिलने के बाद कुछ दिनों में कैबिनेट और संगठन में कुछ फेरबदल देखने को मिल सकते है। राष्ट्रीय स्तर की कार्यकारिणी में भी फेरबदल की चर्चाएं शुरू हो गई है, क्योंकि हिमाचल से जुड़े राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के गृह राज्य की चारों सीटों पर सत्तारूढ़ भाजपा को करारी हार मिली है। इसलिए मिशन रिपीट के लिए फेरबदल को जरूरी माना जा रहा है। वहीं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मंत्रिमंडल में फेरबदल की संभावनाओं से इंकार किया है। हिमाचल से मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री प्रो प्रेम कुमार धूमल, प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप एवं संगठन महामंत्री पवन राणा इस बैठक में वर्चुअल माध्यम से जुड़े, लेकिन वरिष्ठ नेता शांता कुमार इसमें शामिल नहीं हुए। पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि कि उप चुनाव में मिली हार का जल्द मंथन किया जाएगा। इसके लिए 22 नवम्बर से पहले पार्टी की बैठक बुलाई जाएगी। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि मिशन रिपीट के लिए पार्टी सभी कमियां दूरी करेगी। इसमें सभी कार्यकर्ता जुट गए है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest Articles